रोजाना वायरल फीवर और खांसी-जुखाम के दो सौ से ढाई सौ मरीज आ रहे है, सबका हो रहा है कोविड टेस्ट

रोजाना वायरल फीवर और खांसी-जुखाम के दो सौ से ढाई सौ मरीज आ रहे है, सबका हो रहा है कोविड टेस्ट
रोजाना वायरल फीवर और खांसी-जुखाम के दो सौ से ढाई सौ मरीज आ रहे है

बारिश के मौसम अगर हम बच कर न रहें तो हम कई बीमारियों से संक्रमित हो सकते है। ऐसे ही इस समय बारिश के समय के कड़ी को वायरल फीवर और खांसी-जुखाम के मरीज ज्यादा मिल रहे है। रेवाड़ी जिला अस्पताल में करीब रोजाना दो सौ से ढाई सौ रोजाना मरीज मिल रहे है।

सभी मरीजों का कोविद टेस्ट कराया जा रहा है। जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने एक बड़ी राहत यह दी है कि अभी तक जितने भी वायरल फीवर और खांसी-जुखाम के मरीजों का कोविड टेस्ट हुआ था उसमे से किसी का रिपोर्ट कोविड पाज़िटिव नहीं आया है सभी लोग कोविड निगेटिव आए है।

यह भी पढ़े   हरियाणा पुलिस के हाथ लगी एक बड़ी सफलता, काफी दिनों से फरार 5 लाख रुपये इनामी बदमाश पकड़ाया

रेवाड़ी के जिला अस्पताल के अधिकारियों का कहना है कि डरने की कोई जरूरत नहीं है यह सब मौसम के परिवर्तन की वजह से हो रहा है। अब तक जितने भी वायरल फीवर और खांसी-जुखाम के मरीज आए है वे सब बारिश के परिवर्तित मौसम की वजह से संक्रमित हुए है। डॉक्टर ने कहा है कि ऐसा संक्रमण आम-बात है।

चिकित्सको का कहना है कि इस समय आप लोगों को थोड़ा बचकर रहना पड़ेगा। इस समय जगह-जगह पनि इकट्ठा होते है ज्यादा दिन तक पानी इकट्ठा होने की वजह से मच्छर पनपते है जोकि डेंगू और मलेरिया फैलाते है। इसलिए अपने आस-पास साफ-सफाई जरूर रखें।

यह भी पढ़े   दहेज से पीड़ित एक लड़की ने लगाई फांसी, सुसाइड नोट के जरिए दी जानकारी

और साथ में यह भी कहे है कि अभी कोरोना पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है इसलिए सोशल डिस्टेंस और मास्क का जरूर उपयोग करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *