हरियाणा में अस्तित्व में आया कौशल रोजगार निगम, अब ठेकेदारी प्रथा होगा बंद

हरियाणा में अस्तित्व में आया कौशल रोजगार निगम, अब ठेकेदारी प्रथा होगा बंद
हरियाणा में अस्तित्व में आया कौशल रोजगार निगम

हरियाणा सरकार ने हरियाणा में कौशल रोजगार निगम का गठन किया है। इस निगम के आगमन से ठेकेदारी प्रथा को बंद किया जाएगा। सरकार का कहना है कि ठेकेदारी प्रथा बंद होने से करप्शन पर लगेगी पाबंदी।

हरियाणा कौशन रोजगार निगम अपने अस्तित्व में आ गया है। हरियाणा सरकार ने मुख्य अधिकारी एसओ के के जिम्मेदारी को आईएएस शरणदीप बराड़ को दिया गया है।

अब आईएएस शरणदीप बराड़ औधोगिक प्रतिक्षण, नागरिक संसाधन, कौशन विकास, इत्यादि अब इनके अन्डर ही आएगा। अब ये इन विभागों की भी जिम्मेदारी को संभालेंगे। आगे चलकर आउटसोर्सिंग की सभी जिम्मेदारी यही संभालेंगे।

अगर कोई विभाग व कच्चे कर्मी अपने भर्ती को लेकर इसी निगम से ही मांग कर सकते है। कौशल रोजगार निगम के आने से ठेकेदार और आउटसोर्सिंग से होने वाली भर्ती पर रोक लगाई जा सकती है। अब कई भर्ती को लेकर यही निगम फैसला ले सकता है।

यह भी पढ़े   रोजाना वायरल फीवर और खांसी-जुखाम के दो सौ से ढाई सौ मरीज आ रहे है, सबका हो रहा है कोविड टेस्ट

सरकार ने कहा है कि ठेकेदारी और आउटसोर्सिंग के भारतीयों में लोग खूब घुस ले रहे थे। इस निगम के आने से घुस पर रोक लगाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *