• December 3, 2022
राशन
0 Comments

सरकारी डिपो से राशन नहीं मिलता, तो ऐसे कराये शिकायत दर्ज

सरकार ने कोरोना महामारी के समय गरीब परिवारों तक अधिक से अधिक राशन पहुंचाने की कोशिश की ,जो काफी हद तक कामयाब भी रही। इसी कड़ी में पीएम गरीब कल्याण योजना की शुरुआत की गयी ताकि सभी परिवारों को हर महीने फ्री राशन मिल सके। इस योजना के तहत फ्री में चावल , दाल ,गेहू ,तेल ,नमक आदि आर्थिक रूप से गरीब लोगो को दिए जाते है।

लेकिन पिछले कुछ महीनो से बहुत सारे लोगो की शिकायत आ रही है की राशन कार्ड होने के बावजूद उनको फ्री राशन नहीं मिल रहा है या राशन मिलने में बहुत परेशानी उठानी पड़ रही है। आपको बता दे की अगर आपका आधार कार्ड राशन कार्ड से लिंक है तो आप बिना राशन कार्ड भी देश में किसी भी सरकारी डिपो से फ्री सेशन ले सकते है। अगर आपको फ्री राशन लेने में कोई भी परेशानी होती है तो आप घर बैठे सिर्फ एक ईमेल के माध्यम से अपनी शिकायत दर्ज करा सकते है। आईये जानते है शिकायत दर्ज करने का पूरा प्रोसेस –

यह भी पढ़े   Amul vacancy 2022: अमूल में निकली 2156 पदों पर भर्ती , नहीं मिलेगा दोबारा ऐसा मौका
राशन
राशन

ऐसे कराये शिकायत दर्ज

अगर आप फ्री राशन लेने में किसी भी तरह की परेशानी उठाते है तो आप अपनी शिकायत हेल्पलाइन नंबर या ईमेल के माध्यम से दर्ज करा सकते है इसके बाद आपको घर पर ही राशन पंहुचा दिया जायेगा। अगर आप दिल्ली में रहते है तो हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत के लिए आपको  टोल फ्री नंबर 1800110841 पर कांटेक्ट करना होगा व् इस नंबर पर आप राशन को ब्लैक में बेचने वाले की भी शिकायत करा सकते है।

अगर आप किसी भी डिपो होल्डर की शिकायत ईमेल के माध्यम से करना चाहते है तो आप आधिकारिक वेबसाइट cfood@nic.in पर ईमेल भेजकर कर सकते है। ध्यान रहे की जिसकी आप शिकायत करना चाहते है उसका नाम बिलकुल सही व् साफ़ अक्षरों में लिखा हो ,आपको अपना नाम जो राशन राशन कार्ड में हो और राशन डिपो का नाम दोनों दर्ज कराने होंगे। इसके बाद आपको राशन मिल जायेगा।

यह भी पढ़े   SUPERPOWER! के साथ WHATSAPP के एडमिन करेंगे काम , जानिए आपके मैसेज को एडमिन कैसे कर सकता है डिलीट

बहुत ज्यादा लोगो को राशन लेते समय परेशानी का सामना करना पड़ रहा है इसलिए भारत सर्कार ने यह कदम उठाया है ताकि सभी परिवारों को राशन आसानी से मिल सके।

Author

newshutrewari@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.