ऑनलाइन क्लास में सरकार की आलोचना, स्कूल ने दिया नोटिस , फिर शिक्षिका का इस्तीफा जाने मामला

ऑनलाइन क्लास में सरकार की आलोचना, स्कूल ने दिया नोटिस , फिर शिक्षिका का इस्तीफा जाने मामला

गुरुग्राम के सेक्टर 10 में स्थिति यूरो इंटरनेशनल स्कूल की ऑनलाइन क्लास में शिक्षिका ने विद्यार्थियों को मौजूदा सरकार के बारे में कुछ कड़वी बातें कहीं. इस पर विद्यार्थियों के अभिभावकों ने आपत्ति जताई और शिक्षिका की शिकायत स्कूल प्रबंधन से कर दी.अभिभावकों द्वारा जताई गई आपत्ति के अनुसार स्कूल प्रबंधन ने शिक्षिका को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया. इसका जवाब देते हुए शिक्षिका शोभा दास ने माफीनामा देते हुए स्कूल के नाम इस्तीफा लिख दिया.

Online Course अनलाइन लर्निंग के फायदे और नुकसान

स्कूल की प्राचार्य निधि कपूर ने बताया कि उन्होंने मंगलवार को अभिभावकों की शिकायत पर शिक्षिका को स्कूल में बुलाया था. और उन्होंने शिक्षिका का पक्ष जानने की भी कोशिश की लेकिन ने शिक्षिका ने माफीनामा के साथ सीधा इस्तीफा दे दिया जिसे स्कूल ने भी मंजूर कर लिया.

वीडियो हुआ वायरल

यह भी पढ़े   CBSE 12th कक्षा का रिजल्ट हुआ जारी, सबसे पहले यहाँ से देखे आपका रिजल्ट

स्कूल की ऑनलाइन कक्षा का एक वीडियो वायरल हो रहा है दसवीं के समाजशास्त्र विषय की ऑनलाइन क्लास में शिक्षिका विद्यार्थियों को यह कहती सुनाई देती है कि बीजेपी सरकार देश को बर्बादी की तरफ ले जा रही है. जब कांग्रेस सरकार थी वह देश को काफी आगे लेकर गई थी. शिक्षिका ऐसे ही भड़काऊ बातें कहते हुए कह रही है कि मौजूदा सरकार सीएए का कानून लेकर आई जिससे अल्पसंख्यक समुदाय को नुकसान हो रहा है. अभिभावकों का आरोप यह भी है कि अध्यापिका ने कहा कि बीजेपी सरकार द्वारा जो राम मंदिर बनाया जा रहा है वह हिंदू धर्म को बढ़ावा देने के लिए है. इस घटना के बाद कई अभिभावक आहत हो गए और उन्होंने शिक्षिका की शिकायत स्कूल प्रबंधन से कर दी.

यह भी पढ़े   Online Course: ऑनलाइन लर्निंग के फायदे और नुकसान

अभिभावकों का कहना है कि ऐसे भड़काऊ बातें करके अध्यापिका बच्चों को गुमराह कर रही है जो बिल्कुल भी सही नहीं है. बच्चों का भी है कहना है कि अध्यापिका कोर्स की पढ़ाई करवाने की बजाय ऐसी बातें ज्यादा करती है. इसीलिए अभिभावकों के अनुसार ऐसी कटरता फैलाना ठीक नहीं है और उन्होंने अध्यापिका की शिकायत कर दी और इसी शिकायत पर स्कूल प्रबंधन ने भी कार्रवाई शुरू करने का फैसला लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *