• January 27, 2023
FcRpKkCacAI4j51
0 Comments

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने एक नई सर्विस इंट्रोड्यूस की है. बैंक ने FASTag का बैलेंस चेक करने के लिए अब SMS सर्विस शुरू कर रहा है, जिसके जरिए अब सेकेंड्स में यूजर फास्टैग का बैलेंस जान सकेंगे. बैंक ने शनिवार, 9 सितंबर को एक ट्वीट कर इस बारे में जानकारी दी. इसमें बताया गया है कि एसबीआई का फास्टैग यूज करने वाले कस्टमर अब अपने रजिस्टर्ड नंबर से 7208820019 पर एक SMS भेजकर अपना SBI FASTag बैलेंस जान सकते हैं. बैंक ने यह भी बताया है कि आपको मैसेज कैसे भेजना है.

1088763 untitled design 94

अगर आपको एक गाड़ी पर लगे फास्टैग का बैलेंस जानना है तो आपको 7208820019 नंबर पर FTBAL लिखकर SMS भेजना होगा. वहीं, अगर आपके पास कई गाड़ियां हैं, और सबके फास्टैग का बैलेंस चेक करना है तो आपको लिखना होगा- FTBAL <Vehicle Number> और इसे 7208820019 पर भेज देना होगा.मैसेज आपको SBI FASTag के साथ रजिस्टर्ड  अपने मोबाइल नंबर से ही भेजना होगा. इसके कुछ सेकेंड्स के अंदर ही आपको अपना फास्टैग बैलेंस पता चल जाएगा.

यह भी पढ़े   PM Kisan yojana : पीएम किसान योजना में अब होने वाला है ये बड़ा बदलाव, जानिये 12 करोड़ किसान कैसे हो सकते है इससे प्रभावित

FcRpKkCacAI4j51

FASTag गाड़ियों पर लगा एक स्टिकर होता है जो कि RFID (Radio Frequency Identification) तकनीक से काम करता है. टोल टैक्स जमा करने के लिए भारत में पिछले कुछ सालों में इसका तेजी से विस्तार हुआ है. आप गाड़ी के विंडस्क्रीन पर इसे लगा लेते हैं और फिर अगली बार टोल प्लाजा से गुजरते वक्त आपको कैश देने की जरूरत नहीं पड़ती. फास्टैग को स्कैन करने वाली मशीन आपके टैग को स्कैन कर लेती है और उस टैग से आपका जो भी अकाउंट लिंक होता है, उससे डायरेक्टली पैसे कट जाते हैं. सड़क परिवहन मंत्रालय के Central Motor Vehicles Rules (CMVR), 1989 के तहत गाड़ियों पर फास्टैग लगाना 1 जनवरी, 2022 से अनिवार्य किया जा चुका है. यह नियम M और N क्लास की चारपहिया या इससे ज्यादा बड़ी गाड़ियां, जो या तो पैसेंजर ले जाती हैं या फिर मालढुलाई करती हैं, पर लागू होता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *