• September 26, 2022
7474 1601784950
0 Comments

वृद्धावस्था के दौरान बुजुर्गों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इस उम्र के पड़ाव में आने के बाद कई तरह की जरूरतें इंसान को पड़ती है जिनका समाधान कभी-कभी परिवार के लोग नही कर पाते है इन्ही परेशानियों को देखते हुए सरकार की ओरसे सीनियर सिटीजन कार्ड बनाया गया है। इस कार्ड का लाभ 60 वर्ष से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिक ही उठा सकते है। जिसे सीनियर सिटीजन आईडी कार्ड भी कहा जाता हैं।

22 1506084292 x17 1389954691 emotionaldisturbanceandcover jpg pagespeed ic rjxzz6ecot 1540202523

यह कार्ड एक तरह का पहचान पत्र है जो कार्डधारक की डिटेल बताता है. इस कार्ड की मदद से सीनियर सिटीजन को कई तरह की सुविधाएं मिलती  हैं. सरकारी के साथ ही प्राइवेट स्कीम का लाभ भी इस कार्ड की बदौलत सीनियर सिटीजन को मिलता है। आइए जानें कि सीनियर सिटीजन आईडी कार्ड कैसे बनता है.सीनियर सिटीजन कार्ड राज्य सरकारें अपने स्तर पर बनाती हैं। इसके लिए राज्य सरकार की ऑनलाइन वेबसाइट पर अप्लाई करना होता है। एप्लिकेशन के साथ कुछ कागजात भी देने होते हैं ताकि आवेदन के वेरिफिकेशन की प्रक्रिया पूरी की जा सके।

यह भी पढ़े   अपनी पुरानी बाइक का माइलेज इस तरह से बढ़ाए, ये है कुछ आसान तरीके

1-एज प्रूफ के लिए पासपोर्ट, पैन कार्ड, स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट जैसे दस्तावेज दे सकते हैं

2-निवास प्रमाण पत्र के कागजात

राशन कार्ड, पासपोर्ट, इलेक्शन कार्ड, बिजली या फोन का बिल जैसे वैध दस्तावेज दे सकते हैं जो आवेदक के नाम से हो।

3-मेडिकल इनफॉर्मेशन कागजात के लिए ब्लड रिपोर्ट, मेडिकेशन और एलर्जी की रिपोर्ट देनी होती है

कैसे करते हैं अप्लाई

सीनियर सिटीजन आईडी कार्ड बनाने के लिए राज्य सरकार की वेबसाइट http://www.delhipolice.nic.in/seniorcitizen/index.html पर क्लिक कर सकते  हैं। यदि आप दिल्ली में रहते हैं और दिल्ली का सीनियर सिटीजन आईडी कार्ड बनवाना चाहते हैं तो इस लिंक इसी तरह अन्य राज्य सरकारों की ऑनलाइन वेबसाइट पर भी फॉर्म उपलब्ध हैं जहां इसे भरकर अप्लाई किया जा सकता है।

यह भी पढ़े   काबुल एयरपोर्ट पर खाने का समान आसमान छू रहा है, 1 बोतल पानी की कीमत 3000 रुपये, एक प्लेट खाने की कीमत 7500 रुपये

7474 1601784950

आवेदक को अप्लाई करने के दौरान दो फोटोग्राफ और पते के प्रमाण की एक कॉपी और एक आयु प्रमाण दस्तावेज के साथ आवेदन पत्र को रजिस्टर और जमा करना होगा. इसके बाद, आवेदक को पंजीकरण कराना होता है। इसके बाद पंजीकरण प्रक्रिया पूरी करने क बाद आवेदन की मंजूरी और दस्तावेजों के वेरिफिकेशन के बाद वरिष्ठ नागरिक पहचान पत्र प्राप्त होगा।

सीनियर सिटीजन कार्ड का फायदा

01 02 2017 senior citizen

सीनियर सिटीजन कार्ड बन जाने के बाद आवेदक कर्ता को सरकारी अस्पतालों में मुफ्त इलाज और सरकारी अस्पतालों में रियायती दर पर इलाज दिया जाता है. रेलवे में किराये में रियायत दी जाती थी, लेकिन अभी बंद है। फ्लाइट टिकट में रियायत दी जाती है। इनकम टैक्स अन्य लोगों की तुलना में कम लगता है, कुछ मामलों में रिटर्न भरने से छूट मिलती है। एफडी पर जनरल पब्लिक से अधिक ब्याज मिलता है। पोस्ट ऑफिस इनवेस्टमेंट स्कीम में आम लोगों की तुलना में अधिक लाभ और सुविधाएं मिलती हैं। सरकारी कंपनी एमटीएनएल और बीएसएनएल के लिए अप्लाई करने पर रजिस्ट्रेशन चार्ज में छूट और मंथली रेंटल चार्ज में भी छूट दी जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.