• August 8, 2022
indian-railways
0 Comments

indian-railways भारत के ज्यादातर लोग रेलगाड़ी से ही सफर करते है क्योंकि रेलगाड़ी में समय कम लगता और किराया भी कम होता है। और एक खास बात भारतीय रेलवे दुनिया का चौथा सबसे बड़ा रेलवे है। अधिकतर लोग ट्रैन में इस लिए सफर करते है क्योंकि ट्रैन में लोगो सफर करते समय कई अलग अलग चीजे देखने को मिलती है और ट्रैन के बारे में की कई महत्वपूर्ण जानकारियाँ भी मिलती है ज्यादातर लोग इन चीज़ो को नहीं समझ पाते है लकिन ये चीजे बहुत ही जरूरी होती है। आज हम कई ऐसी ही चीजों के बारे में बात करेंगे जो देखि तो सबने है लकिन समझ नहीं पाए।

जब भी हम indian-railways ट्रैन में घूमने जाते है तो सबसे पहले हम रेलवे स्टेशन जाते और वह कई सारी जानकारिया होती है लकिन आज तक उन पर कभी किसी ने भी ध्यान नहीं किया होगा वहाँ पर कई सारे अलग अल;अलग चिन्ह होते हे स्टेशन पर एक पीला रंग के बोर्ड पर जगह का नाम लिखा होता है और सिर्फ जगह के नाम ही नहीं बल्कि समुन्द्र तल से ऊंचाई भी लिखी होती है जैसे कि 400 मीटर ,315 मीटर ,या फिर 150 मीटर लिखा हुआ देखा होगा हमने आज तक कभी नहीं सोचा होगा की समुद्र तल की ऊंचाई क्यों लिखी है या फिर इसका क्या मतलब है यह यात्रियों के लिए लिखा गया है या इसका कोई कारण है।

यह भी पढ़े   Indian Railways: वन्दे भारत को लेकर रेल मंत्री ने की बड़ी घोषणा

indian-railways

स्टेशन पर क्यों लिखे होते हैं समुद्र तल से ऊंचाई -indian-railways

रेलवे स्टेशन पर बोर्ड के निचले हिस्से पर समुद्र तल की ऊंचाई लिखी होती है जैसे कि MSL 214 से 242 ,मीटर। अलग अलग स्टेशन समुद्र तल की ऊंचाई अलग होती है और हम आपको MSL का मतलब आगे बताते है।

indian-railways रेलवे स्टेशन पर जो समुद्र तल की ऊंचाई होती उससे यात्रियों को कुछ लेना देना नहीं होता है लकिन यह समुद्र तल की ऊंचाई यात्रियों के लिए ही जरूरी होता है और यह संकेत ट्रैन चालक या गार्ड के लिए ज्यादा जरूरी होता है और ट्रैन ड्राइवर शुरुआत से ही इसे फॉलो करते है।

यह भी पढ़े   रसोई गैस सिलेंडर पर फिर शुरू हुई सब्सिडी ! आपके खाते में आए पैसे, ऐसे करें चेक

ऐसे में आप लोगो को यह भी पता होना चाहिए MSL का मतलब क्या है रेलवे स्टेशन पर समुद्र तल की ऊंचाई इस लिए लिखी होती है कि गार्ड और ट्रैन ड्राइवर को मदद मिल सके। और MSL इसलिए लिखा होता है क्योंकी ट्रैन ड्राइवर पता लगा सके की ट्रैन कितनी गति से चलानी है।

 

Table of Contents

Author

newshutrewari@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.