• October 6, 2022
इंडियन रेलवे
0 Comments

इंडियन रेलवे

भारत में ट्रैन एक ऐसा साधन है जिसका किराया बहुत कम होता है और ज्यादातर लोग ट्रैन में ही सफर करते है लेकिन क्या आपने कभी ये सोचा है की इंडियन रेलवे की ट्रैन का रंग नीला ही क्यों होता है शताब्दी एक्सप्रेस, राजधानी एक्सप्रेस, वंदे भारत और बहुत सारी अन्य ट्रेन डिब्बों के पैटर्न और रंगों का सही अर्थ क्या होता है

इंडियन रेलवे -आईसीएफ कोच

काफी ट्रेनों में नीले रंग के डिब्बे लगे होते है। इन डिब्बों को ICF के अंतर्गत माना जाता है ये स्वतंत्र भारत की पहली ट्रैन की उत्पादन इकाइयां है। इन्हे एंट्री-लेवल कोच के नाम से जाना जाता है। ICF की फुल फॉर्म इंटीग्रल कोच फैक्ट्री’ है इंटीग्रल कोच फैक्ट्री’  कोच का रंग नीला है।

यह भी पढ़े   इस देश में स्वीपर और चपरासी को मिल रहे 8 लाख रूपये , फिर भी नहीं मिल रहे सफाई करने वाले

इंडियन रेलवे -एलएचबी राजधानी  

एलएचबी राजधानी एक्सप्रेस लाल रंग की ट्रेनें हैं और राष्ट्रीय एलएचबी राजधानी एक्सप्रेस को देश भर के राज्यों से जोड़ने के लिए संचालित की जाती हैं.

इंडियन रेलवे -एलएचबी शताब्दी 

एलएचबी शताब्दी को ऊपर और नीचे से हल्के नीले और भूरे रंग होते है।

इंडियन रेलवे
इंडियन रेलवे

ये है एलएचबी गतिमान का मतलब 

एलएचबी गतिमान एक्सप्रेस भारतीय रेलवे की ट्रेन बड़ी ही नवीनतम संस्करण है और उच्च लिए भी जानी जाती है पीले रंग की लाइनों के साथ नीचे की और स्लेटी होता है और कोच नीले रंग के होते हैं।

यह ट्रैन बहुत ही मॉडर्न सुविधाएं वाली है और इस ट्रेन बैंगनी रंग की एलईडी लाइट्स और बायो-टॉयलेट की सुविधाएं होती है।

 

Author

newshutrewari@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.