• August 8, 2022
Indian Railway
0 Comments

भारतीय रेलवे दुनिया का चौथा सबसे बड़ा रेलवे नेटवर्क है और एशिया का दूसरे नंबर पर सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है। रेल एक ऐसा यातायात का साधन है जिसमे कोई भी व्यक्ति आरामदायक यात्रा कर सकता है। आपको पता भी होगा की रेल में सबसे कम किराया होता है। जिस वजह से भी लोग ज्यादातर ट्रेन में सफर करते है। यह बात तो सबको पता होता है कि पूरी ट्रेन इंजन द्वारा कंट्रोल की जाती है। ट्रैन के इंजन में जो ड्राइवर होते है उन्हें लोको पायलेट कहा जाता है लेकिन क्या आपने कभी सोचा है की अगर ट्रेन के ड्राइवर को नींद आ जाये तो क्या होगा। इस बारे में आप और जानकारी प्राप्त करने के लिए आगे पढ़िए।

यह भी पढ़े   एलपीजी सिलेंडर प्राइस :एलपीजी सिलेंडर के दाम हुए है कम जाने आज की कीमत
Indian Railway
Indian Railway

ट्रेन में होते हैं दो ड्राइवर

दोनों ड्राइवर सो जाए तो क्या होगा 

यह भी पढ़े   Stationery Business Idea: इस बिजनेस की है बहुत ज्यादा मांग, हो सकती है लाखो की कमाई

लेकिन अभी भी कई  सारे लोगो के दिमाग में ये बात आ रही होगी कि अगर दोनों ड्राइवर सो जाए तो क्या होगा लेकिन ऐसा होने की संभावना बहुत कम होती है और रेलवे लाइन ने इसके लिए भी ट्रेन के इंजन ‘विजीलेंस कन्ट्रोल डिवाइस लगाया जाता है ट्रेन के इंजन में लगा ये डिवाइस ये बाते ध्यान रखता है कि अगर ड्राइवर ने एक मिनट होने तक को प्रतिक्रिया या सुचना नहीं देता है, तो 17 सेकंड के अन्दर एक ऑडियो विजुअल इंडीकेशन आता है. ड्राइवर को इसे बटन दबाकर बाते स्वीकार करनी होती है. अगर ड्राइवर इस इंडीकेशन का जवाब नहीं देता तो 17 सेकंड बाद ऑटोमेटिक ब्रेक लगने शुरू हो जाते हैं.और फिर कुछ समय बाद ट्रेन रुक जाती है।

Author

newshutrewari@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.