• August 8, 2022
स्वास्थ्य विभाग के द्वारा लिया गया एक बड़ा फैसला
0 Comments

जैसा कि लोगों का अनुमान है कि जल्दी ही कोरोना की तीसरी लहर आने वाली है। जिससे की साधानियाँ बरतनी बहुत ही जरूरी है। अभी इस समय हर जगह स्कूलों को भी खोला जा रहा है। ऐसे में कोरोना की तीसरी लहर से छात्रों को बहुत खतरा है।

स्वास्थ्य विभाग के द्वारा लिया गया एक बड़ा फैसला
स्वास्थ्य विभाग के द्वारा लिया गया एक बड़ा फैसला

अभी केवल 6 वीं से 12वीं तक के ही स्कूल खोने गए है। स्कूल के दौरान छात्रों और सभी स्कूल स्टाफ को कोरोना के प्रोटोकॉल को फॉलो करना है।

स्वास्थ्य विभाग के द्वारा लिया गया एक बड़ा फैसला

रविवार को हुई बैठक के बाद आज स्वास्थ्य विभाग एक बड़ा फैसला आया है कि जब तक स्कूल के सभी स्टाफ को कोरोना की दूसरी डोज नहीं लगती है तब तक पहली से पाँचवी तक के छात्रों के लिए स्कूल खोलने की अनुमति नहीं मिली है।

यह भी पढ़े   आइए जानते हैं,इस अनसुलझे रहस्य को की पहले मुर्गी आई या अंडा जानिए क्या है,सच

कोरोना की लहर के दौरान अगर कोई स्कूल का स्टाफ या छात्र कोरोना से संक्रमित होता था तो स्कूल को पूरा सेनेटाइज़ करवाया जाता था और स्कूल को 2-3 दिन के लिए बंद भी किया जाता था। लेकिन अगर कोरोना की तीसरी लहर से कोई छात्र या स्कूल स्टाफ संक्रमित होता है तो पूरे स्कूल को तो सेनेटाइज़े करवाया ही जाएगा और साथ में ही स्कूल को 2 हपते के लिए बंद भी कर दिया जाएगा।

स्वास्थ्य विभाग ने यह आदेश सख्त जारी किया है कि स्कूल के सभी स्टाफ को टीकाकरण होना जरूरी है।

Author

Hindihelptips0@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.