• December 3, 2022
चालक प्रशिक्षण
0 Comments

रोहतक :- हरियाणा की बेटियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए अब उन्हें ड्राइविंग में दक्ष बनाने का अब कार्य किया जाएगा. जिसके लिए प्रदेश सरकार के द्वारा योजना की लॉन्चिग की, इसमें  5 जिलों को पहले चरण के लिए चुना गया है. बेटियों को पहले चरण में चालक प्रशिक्षण बहादुरगढ़ व कैथल में दिलवाया जाएगा.

पांच जिले की बेटियों को पहले चरण में दिया जा रहा है मौका

यह योजना अभी केवल गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाली महिलाओं व लड़कियों के लिए ही उपलब्ध है. हरियाणा महिला विकास निगम द्वारा पहले चरण में जिला झज्जर, जिला कैथल, जिला रोहतक, जींद तथा पानीपत को सम्मिलित किया है.

यह भी पढ़े   झारखंड में 10वीं पास के लिए बंपर भर्ती, 400 से अधिक वैकेंसी, यहां करें आवेदन

चालक प्रशिक्षण व आत्मरक्षा प्रशिक्षण के लिए इच्छुक लड़किया / महिलाएं  ऑनलाइन आवेदन कर सकती हैं. आवेदन का प्रोफॉर्मा (Performa) हरियाणा महिला विकास निगम के कार्यालय में मौजूद होगा . आवेदन के साथ वांछित प्रमाण पत्रों की सत्यापित प्रतियों सहित ईमेल के माध्यम से भेजे जायेंगे. इच्छुक पत्र आवेदक के द्वारा दूरभाष नंबर, इमेल एड्रेस तथा सक्षम अधिकारी द्वारा जारी प्रमाण पत्रों के सत्यापित प्रतियां सलंगन करना आवशयक है. पूरी जानकारी के लिए पूरा पढ़े.

चालक प्रशिक्षण
चालक प्रशिक्षण

21 दिन का होगा चालक प्रशिक्षण

गरीबी रेखा से नीचे बीपीएल (BPL) जीवन यापन करने वाले परिवारों से लड़कियों व महिलाओं के लिए बहादुरगढ़ तथा कैथल में 21 दिन का चालक प्रशिक्षण तथा आत्मरक्षा प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया जाने वाला है इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए लड़कियों व महिलाओं के लिए पात्रता निश्चित कर दी गई है.

यह भी पढ़े   रोहतक हत्या कांड : अभिषेक अपना सेक्स चेंज करवाना चाहता था, पूछताछ के दौरान बताया कि...

सभी आवेदन करने वाली महिला या लड़की हरियाणा राज्य की मूल स्थायी निवासी होने चाहिए। आवेदक की आयु 18 से 45 वर्ष के मध्य में होनी चाहिए. इसके लिए शैक्षणिक योग्यता 12वीं पास की रखी गई है. इसमें शैक्षणिक योग्यता को ही वरीयता प्रदान की जाएगी

प्रशिक्षण के दौरान निशुल्क खानपान में ठहरने की व्यवस्था का प्रबंध

आवेदक की अच्छी दृष्टि होनी चाहिए और दृष्टिहीनता बिल्कुल ना हो. वही वैध लर्नर लाइसेंस भी होना चाहिए. स्कीम केवल गरीबी रेखा से नीचे यानी बीपीएल परिवारों के लिए ही है और उन्होंने बताया कि प्रत्येक प्रशिक्षणार्थी को एक हजार रूपये वजीफा भी प्रदान किया जाएगा और प्रशिक्षण अवधि के दौरान ही निशुल्क खानपान और ठहरने की व्यवस्था भी प्रदान की जाएगी.

Author

newshutrewari@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.