• November 29, 2022
प्रदूषण से होने वाली बीमारियां
0 Comments

नई दिल्ली | 10 बड़े फैसले – दिल्ली प्रदूषण स्कुल बंद, वाहन बंद, घर से करे काम, बाहर निकलने पर रोक. आपको बता दे की दिल्ली में वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए दिल्ली सरकार ने कई बड़े ऐलान किए हैं.

  • इसके तहत शनिवार से जहां पहली से पांचवीं तक के स्कूल अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिए गए हैं.
  • वहीं, 50 फीसदी सरकारी कर्मचारी अब घर से काम करेंगे.
  • यह नियम अगले आदेश तक लागू रहेगा. इसके साथ ही दिल्ली की सड़कों पर डीजल वाहनों पर भी रोक लगा दी गई है.
  • वही सरकार ने अनुरोध किया है बेवजह घर से बाहर न निकले – बच्चे और बूढ़े ख्याल रहे.

नियमों का सख्ती से होगा पालन

  • दिल्ली के पर्यावरण मंत्री ने शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान के चौथे चरण के नियमों को लेकर अहम घोषणाएं कीं.
  • उन्होंने कहा कि ग्रेप IV के सभीनियमों को सख्ती से लागू किया जाएगा.
  • प्रदूषण से होने वाली बीमारियां
    प्रदूषण से होने वाली बीमारियां

बीएस-6 वाहनों को ही मिलेगी एंट्री

  • दिल्ली में डीजलवाहनों के प्रवेशपर अब अगले आदेश तक रोक रहेगी.
  • दिल्ली में सिर्फ बीएस-6 वाहनों को ही एंट्री मिलेगी.।
  • दिल्ली में BS IV और V के सभी वाहनों पर रोकलगा दी गई है.

ये प्रतिबंध शनिवार से लागू होंगे

आपको बता दे की आवश्यक वस्तुओं को ले जाने वाले या आवश्यक सेवाएं प्रदान करने वाले ट्रकों और सभी सीएनजी, इलेक्ट्रिक ट्रकों को छोड़कर दिल्ली में ट्रकों का प्रवेश बंद है. जरूरी सेवाओं के अलावा डीजल से चलने वाले मध्यम माल वाहनों और दिल्ली में पंजीकृत भारी माल वाहनों की आवाजाही पर दिल्ली छेत्र में पूर्णता रोक लगा दी गई है.

  • आवश्यक और आपातकालीन सेवाओं के लिए उपयोग किए जाने वाले BS-VI वाहनों को छोड़कर दिल्ली-एनसीआर में चार पहिया डीजल LMVS पर प्रतिबंध लगा दिया गया है.
  • दिल्ली-एनसीआर में हाईवे, फ्लाईओवर, पाइपलाइन जैसी सरकारी परियोजनाओं में निर्माण कार्य ठप हो गया है.
  • फ़िलहाल दिल्ली सरकार ने अपने 50% कर्मियों को घर से काम करने की अनुमति दी है.
  • मानना है की पराली जलाने के मामले बढ़ने के साथ ही दिल्ली-एनसीआर में हवा बेहद जहरीली हो गई है.
  • दिल्ली के साथ-साथ एनसीआर के शहरों में भी एयर क्वालिटी इंडेक्स 500 को पार कर गया है और कहीं-कहीं तो यह 600 के करीब भी है.

नोएडा में स्कूल बंद

  • वायु प्रदूषण की गंभीरता को देखते हुए राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा और ग्रेटर नोएडा के स्कूलों को 1-8 से बंद कर दिया गया है.
  • यह आदेश शुक्रवार से प्रभावी है.
  • बता दें कि वायु गुणवत्ता रेड जोन में पहुंचते ही वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग (CAQM) ने दिल्ली एनसीआर में ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (GRAPE) के चौथे चरण को तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया है
  • इसके साथ ही ग्रेप के पहले, दूसरे और तीसरे चरण के प्रावधान को लेकर और सख्ती बरती जाएगी.

बहुत जरूरी ना हो तो घर से बाहर ना निकले

व्ही सीएक्यूएम ने  सभी बुजुर्गों, बच्चों और सांस के मरीजों को भी बेवजह बाहर न निकलने और घर पर रहने की सलाह दी है.

सीएक्यूएम की बैठक में खुलासा हुआ कि अगले दो से तीन दिनों तक हवा की गुणवत्ता गंभीर या बहुत गंभीर बनी रह सकती है

 

यह भी पढ़े   President Of India Salary: भारत के राष्ट्रपति का वेतन कितना होता है और वेतन पर कितना टैक्स लगता है ?

Author

newshutrewari@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.