हरियाणा के इस जिले में लगा सबसे पहला स्मार्ट मिटर, जाने स्मार्ट मीटर के क्या फायदे और नुकसान है

स्मार्ट मीटर
हरियाणा के इस जिले में लगा सबसे पहला स्मार्ट मीटर

काफी लंबे समय से इंतज़ार था। बिजली के स्मार्ट मीटर लगाने की योजना काफी लंबे समय से थी। फिलहाल अब जाकर या यह योजना सफल होती हुई नजर आ रही है। बता दें के हरियाणा के हिसार जिले में स्मार्ट मीटर के एमडी फुलचंद मीना के क्वार्टर में सबसे पहला स्मार्ट मीटर लगाया गया है।

लोगों ने ऐसा उम्मीद लगाया आया है हिसार में आने वाले कुछ दिनों में सबसे घर-घर स्मार्ट मीटर होंगे। वैसे तो स्मार्ट मिटर के काफी सारे फायदे है लेकिन उन लोगों के साथ बहुत बुरा हुआ जो चोरी से अपने घरों में लाइट जलाते है। क्योंकि स्मार्ट मीटर लगने के बाद कोई भी चोरी से बिजली जला नहीं पाएगा। राज्य सरकार का कहना है कि अलगे चार सालों में राज्य में कुल 30 लाख स्मार्ट मीटर लगाना की योजना बनाई गई है। हालांकि यह योजना अभी 10% ही पूरा हुआ है। आगे उम्मीद है कि यह बहुत ही जल्दी पूरा हो जाएगा।

यह भी पढ़े   Weather Report Haryana : अगले दो दिनों में हो सकती है बारिश, हरियाणा के इन जिलों में हुआ अलर्ट

स्मार्ट मीटर में भुगतान कैसे होगा?

पहले बिल निकालने के लिए कर्मचारियों को घर-घर जाकर मीटर चेक करना होता था लेकिन स्मार्ट मीटर लगने की वजह से अब कर्मचारी ऑफिस में बैठे-बैठे बिजली बिल को चेक कर सकता है। और इसी के साथ ही उपभोक्ता भी डीएचबीवीएन स्मार्ट मीटर ऐप की मदद से अपने मोबाइल से बिजली बिल को चेक कर सकता है।

जिस तरह हम अपने सिम में रिचार्ज करते है ठीक उसी प्रकट बिजली बिल की बिलिंग भी कर सकते है। अगर कोई भी व्यक्ति मिटर के साथ छेड़-छाड़ करता है तो मीटर ऑटोमैटिक अपने आप बंद हो जाएगा। और घर में बिजली आना बंद हो जाएगी।

यह भी पढ़े   अमृतसर के बस स्टैन्ड से गायब हुई बस, 4 घंटे बाद बस का पता चला

अब हर उपभोक्ता डीएचबीवीएन ऐप की मदद से रोजाना की बिल चेक कर सकते है। सभी कर्मचारी ऑफिस में ही बैठे-बैठे मोनिटरिंग कर सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.