• September 26, 2022
0 Comments

मोबाइल सेवाओं के आने के बाद आज देश में नेटवर्क कनेक्टिविटी की गुणवत्ता में सुधार हुआ है. यह शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों में अच्छी हो रहा है. हालांकि, देश में अभी भी ऐसे क्षेत्र हैं जहां नेटवर्क उतना अच्छा नहीं है जितना होना चाहिए.

यदि आप अपने क्षेत्र में नेटवर्क की समस्या का सामना कर रहे हैं, तो आप अपने घर में एक मोबाइल टावर लगवा सकते हैं. सरकार ने हाल ही में घोषणा की है कि निजी संपत्ति पर मोबाइल टावर लगाने के लिए दूरसंचार कंपनियों को अब संबंधित प्राधिकरण से मंजूरी लेने की जरूरत नहीं होगी.

टावर लगवाने के लिए नहीं लेनी होगी स्वीकृति

सरकार ने एक अधिसूचना जारी की है जिसमें मोबाइल, रेडियो, एंटीना या बिजली के खंभे लगाने और फुटब्रिज और ओवरपास का उपयोगकरने के लिए शुल्क के साथ नियमों को निर्दिष्ट किया गया है.

यह भी पढ़े   Ration Card: राशन की दुकान का बदलेगा पूरा सिस्टम ,लाभार्थी की सभी शिकायतों पर होगी सुनवाई

images 1 2

सरकार ने विशेषकर 5G सर्विस के कार्यान्वयन को सरल करने के लिए ऐसा किया है यदि किसी कंपनी के पास लाइसेंस है और वह निजी संपत्ति पर दूरसंचार अवसंरचना स्थापित करने में लगी हुई है, तो उसे संबंधित प्राधिकरण से कोई अनुमोदन लेने की आवश्यकता नहीं है.

इंजीनियर से वेरीफाई प्रति करवानी होगी जमा

हालांकि, दूरसंचार कंपनियों को संबंधित प्राधिकरण को टेलीग्राफ इंफ्रास्ट्रक्चर स्थापित करने के बारे में लिखित जानकारी देनी होगी. टेलीकॉम कंपनियों को निजी संपत्ति की पूरी जानकारी देनी होगी. इसके अतिरिक्त इंफ्रास्ट्रक्चर को लेकर इंजीनियर द्वारा Verify एक प्रति भी जमा करनी होगी. इस रिपोर्ट से पता चलेगा कि जिस भवन या संपत्ति पर मोबाइल टावर या पोल लगाया जाएगा वह पूरी तरह से सुरक्षित है.

यह भी पढ़े   पीएम किसान की 10वी क़िस्त के 2000 रूपये अगर आपके खाते में अब तक नही आये है तो करे सिर्फ इतना और आ जायेंगे पैसे

All you need to know about installing mobile towers on your property FB 1200x700 compressed

नोटिफिकेशन में कहा गया है कि छोटे सेल लगाने के लिए Street फर्नीचर का इस्तेमाल करने वाली Telecom कंपनियों को शहरी क्षेत्रों में 300 रुपये प्रति वर्ष और ग्रामीण क्षेत्रों में 150 रुपये प्रति स्ट्रीट फर्नीचर का भुगतान करना होगा. स्ट्रीट फर्नीचर का प्रयोग कर के केबल स्थापित करने के लिए टेलीकॉम कंपनियों को हर साल 100 रुपये प्रति स्ट्रीट फर्नीचर देना होगा.

5जी सेवा जल्द ही शुरू होगी

केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा है कि 5जी सेवा जल्द ही शुरू होने वाली है. उन्होंने खुलासा किया कि भारत में 12 अक्टूबर तक 5जी सेवा शुरू की जाएगी. लॉन्च के बाद इसे अन्य शहरों में विकसित किया जाएगा.

अश्विनी वैष्णव ने कहा: “हमें उम्मीद है कि 5G देश के हर हिस्से तक पहुंच जाएगा.हमारा उद्देश्य हर किसी के लिए इस सेवा को वहन करने में सक्षम होना है, जिसमें उद्योग शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों पर विशेष ध्यान दे रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.