रेवाड़ी में BSC की फाइनल ईयर की छात्रा ने फांसी लगाकर दी अपनी जान

रेवाड़ी में BSC की फाइनल ईयर की छात्रा ने फांसी लगाकर दी अपनी जान
रेवाड़ी में BSC की फाइनल ईयर की छात्रा ने फांसी लगाकर दी अपनी जान

रेवाड़ी जिले में एक बीएससी की फाइनल ईयर की छात्रा ने खुद को फांसी लगाकर दी अपनी जान। उस छात्रा के घर वालों ने शव को जलाने के लिए श्मशान घाट ले गए। तभी किसी ने पुलिस को सूचना दे दी पुलिस ने आकर अर्थी से शव को जब्त किया और पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया।

यह घटना हरियाणा के रेवाड़ी जिले के बधराना गांव की है। बधराना गांव की रहने वाली एक 21 वर्षीय एकता बीएससी की फाइनल ईयर की छात्रा थी। इसी साल उसकी 21 नवंबर को शादी होने वाली थी।

सोमवार के दिन उसके परिजनों ने एकता का शव घर के पास एक पेड़ पर लटकता हुआ मिला। मृतक एकता के परिजनों ने पुलिस को बिना खबर किए उसके शव को उतार कर उसका अंतिम संस्कार करने की तैयारी शुरु कर दिया। वह शव को जलाने के लिए श्मशान घाट ले जा पहुंचे। तभी किसी ने इस बात की सूचना पुलिस को दे दी।

भाड़ावास गांव की पुलिस मौके पर श्मशान घाट पर पहुंची। लोग शव को जलाने की तैयारी कर रहे थे। तभी पुलिस ने पहुंचकर अर्थी से शव को जब्त कर लिया। और शव को नागरिक अस्पताल में पोस्टमार्टम करने के लिए भिजवा दिया।

यह भी पढ़े   पाकिस्तान में हो सकता है पानी की किल्लत, विशेषज्ञों ने किया अलर्ट

दरअसल मृतक एकता के परिजनों ने बिना पुलिस को खबर किए, चुपचाप शव को जलाने के लिए तैयारी कर रहे थे। लेकिन उन्ही में से किसी ने इस बात की सूचना पुलिस को दे दी। मृतक के परिजनो ने चुपचाप शव का अंतिम संस्कार करना चाह रहे थे।

पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। वहीं मृतक की एकता के पिता का कहना है कि 21 नवंबर को एकता की शादी होने वाली थी। और शादी भी एकता के मर्जी से ही तय की गई थी। और कोई जोर जबरदस्ती भी नहीं था फिर भी पता नहीं एकता ने ऐसा कदम क्यों उठाया।

 

यह भी पढ़े   Rewari News :रेवाड़ी में डॉक्टर के 55 में से 20 पद खाली, 9 लंबी छुट्टी पर, 4 साल से 64 स्टाफ नर्स के पद खाली

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *