तीनों कृषि कानून वापिस होने के बाद पीएम बोले …

तीनों कृषि कानून वापिस हुए, पीएम मोदी ने बताया यह कारण
तीनों कृषि कानून वापिस हुए, पीएम मोदी ने बताया यह कारण

पिछले साल पीएम मोदी ने भारत में तीन कृषि कानून को लाया था। किसानों को ऐसा लग रहा था कि इस कृषि कानून आने से भंडार का डोर देश के पूजीपतियों के हाथ में चला जाएगा। और देश में मौजूद सरकारी मंडी बंद भी हो सकती है।

अगर देश के सभी सरकारी मंडी बंद हो जाती है तो प्राइवेट मंडी के ओनर किसान के फसलों के रेट अपने अनुसार तय करेंगे। जिससे कि देश के किसानों को उनकी फसल का अच्छा दाम न मिलने की वजह से उन्हे भारी नुकसान हो सकता है।

इसीलिए देश के बड़े-बड़े किसान दिल्ली के बॉर्डर पर करीब 1 साल से आंदोलन कर रहे थे। इस आंदोलन के दौरान 600 से ज्यादा किसान भाइयों ने अपनी जान गवां दी है।

जिसके बाद हमारे देश के पीएम मोदी जी ने इस तीनों कानून को वापस लेने की बात कही है।

यह भी पढ़े   अब सड़कों पर कार के साथ चलेगी मेट्रो ट्रेन, जानिए पूरा प्लान

जानिए मोदी जी ने तीन कृषि कानून लेते वक्त क्या कहा?

– पीएम मोदी ने कहा कि हमने, कृषि वैज्ञानिक, बड़े-बड़े लोगों के समझाने के बावजूद किसान भाइयों ने तीन कृषि कानून को स्वीकार नहीं किया।

– देश के हिट के लिए इस कृषि कानून को लगाया गया था।

– इस 3 कृषि कानून लाने के, हमारे देश के छोटे किसान को फायदा मिलता।

– हम किसानों को 3 कृषि कानून के बारें में नहीं समझा सके इसलिए इस कृषि कानून को हम वापस ले रहे है।

– किसान आंदोलन से घर लौट जाएँ और खेती में जुट जाएँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *