रोहतक हत्याकांड : रिमान्ड के बाद आरोपी को अदालत ने 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेजा

एक लौटे बेटे ने प्रॉपर्टी के लालच में अपनी माता-पिता, बहन और नानी की हत्या कर देता है
रोहतक हत्याकांड : रिमान्ड के बाद आरोपी को अदालत ने 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेजा

बता दें कि रोहतक में 27 अगस्त को एक ही घर में चार हत्या करने के जुर्म में एक लौटे बेटे अभिषेक को गिरफ्तार कर लिया। रिमान्ड के बाद आरोपी अभिषेक को कोर्ट नें 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। बीतें रिमान्ड में दो दिनों में अभिषेक उर्फ मोनू से कई सच का उजागर किया था।

दरअसल अभिषेक अपने जेंडर को बदलवाना चाहते था इसलिए पैसों के लिए उसने अपने परिवार वालों को मार दिया। 27 अगस्त को उसने सबसे पहले अपनी बहन को मार डाला, उस समय उसकी बहन सो रही थी। और इसके बाद आरोपी ने अपनी माँ और नानी को किसी बहने अपने पास बुलाता और एक-एक करके दोनों की हत्या कर दी। इसके बाद अपने पिता प्रदीप को तीन गोली मार कर हत्या कर देता है।

यह भी पढ़े   हरियाणा के रोडवेज बसों पर ई-टिकटिंग चालू होगा, टिकटों की हेरा-फेरी पर लगेगा लगाम

पुलिस ने पूछ-ताछ के दौरान पता किया कि वह अपने जेंडर को बदलवाकर विदेश भागना चाहता था। जेंडर बदलवाने के लिए उसे पैसों की जरूरत थी। और इस बात की भनक आरोपी अभिषेक के परिवार वालों को लग गई थी। । इसलिए उसने अपने ही सगे माँ-बाप, बहन और नानी को मौत के घाट उतार दिया। और पैसे लेकर भागने के फिराक में था।

इस वारदात को अभिषेक के अकेले ही अंजाम दिया था। इसमे उसके किसी भी दोस्त ने साथ नहीं दिया था। फिलहाल सुनवाई के बाद अदालत ने 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में बेंच दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.